Home » भजन: था बिन दीनानाथ आंगली कुण पकड़सी जी – Bhajan: Tha Bin Dheenanath Aangli Kun Pakadsi Ji | भारत की अग्रणी गीत गीत साइट

भजन: था बिन दीनानाथ आंगली कुण पकड़सी जी – Bhajan: Tha Bin Dheenanath Aangli Kun Pakadsi Ji | भारत की अग्रणी गीत गीत साइट

by Brahma Aditya

भजन: था बिन दीनानाथ आंगली कुण पकड़सी जी – Bhajan: Tha Bin Dheenanath Aangli Kun Pakadsi Ji | गाने के बोल हर दिन अपडेट होते हैं


था बिन दीनानाथ आंगली कुण पकड़सी जी: भजन
Add To Favorites

था बिन दीनानाथ,
आंगली कुण पकड़सी जी,
कुण पकड़सी जी सांवरा,
कुण पकड़सी जी,
था बिन दिनानाथ,
आंगली कुण पकड़सी जी,
म्हारी पीड़ हरो घनश्याम आज,
थाने आया सरसी जी,
था बिन दिनानाथ,
आंगली कुण पकड़सी जी ॥

था बिन म्हारे सिर पर बाबा,
कुंण तो हाथ फिरावे है,
सगळा मुंडो फेर के बैठ्या,
कुंण तो साथ निभावे है,
मजधारा सु बेडो कईया,
मजधारा सु बेडो कईया,
पार उतरसी जी,
था बिन दिनानाथ,
आंगली कुण पकड़सी जी ॥

म्हारी हालत सेठ सांवरा,
थासु कोन्या छानी रे,
एक बार थे पलक उघाड़ो,
देखो म्हारे कानि रे,
थारे देख्या बिगड़ी म्हारी,
थारे देख्या बिगड़ी म्हारी,
श्याम सुधरसी जी,
था बिन दिनानाथ,
आंगली कुण पकड़सी जी ॥

आंख्या सामी घोर अंधेरो,
कुछ ना सूझे आगे श्याम,
ईब के होसी सोच सोच के,
म्हाने तो डर लागे श्याम,
‘हर्ष’ म्हारे आगे को रस्तो,
‘हर्ष’ म्हारे आगे को रस्तो,
श्याम ही करसी जी,
था बिन दिनानाथ,
आंगली कुण पकड़सी जी ॥

था बिन दीनानाथ,
आंगली कुण पकड़सी जी,
कुण पकड़सी जी सांवरा,
कुण पकड़सी जी,
था बिन दिनानाथ,
आंगली कुण पकड़सी जी,
म्हारी पीड़ हरो घनश्याम आज,
थाने आया सरसी जी,
था बिन दिनानाथ,
आंगली कुण पकड़सी जी ॥

यह भी जानें

Bhajan Shri Krishna BhajanBhrij BhajanBal Krishna BhajanLaddu Gopal BhajanBhagwat BhajanJanmashtami BhajanShri Shyam BhajanIskcon BhajanPhagun Mela BhajanRadhashtami Bhajan

अगर आपको यह भजन पसंद है, तो कृपया शेयर, लाइक या कॉमेंट जरूर करें!


इस भजन को भविष्य के लिए सुरक्षित / बुकमार्क करें Add To Favorites


* कृपया अपने किसी भी तरह के सुझावों अथवा विचारों को हमारे साथ अवश्य शेयर करें।

** आप अपना हर तरह का फीडबैक हमें जरूर साझा करें, तब चाहे वह सकारात्मक हो या नकारात्मक: यहाँ साझा करें।

और भी बेहतरीन गाने के बोल यहां देखें: और देखें

विषय से संबंधित खोजें भजन: था बिन दीनानाथ आंगली कुण पकड़सी जी – Bhajan: Tha Bin Dheenanath Aangli Kun Pakadsi Ji

#भजन #थ #बन #दननथ #आगल #कण #पकड़स #ज #Bhajan #Tha #Bin #Dheenanath #Aangli #Kun #Pakadsi

भजन: था बिन दीनानाथ आंगली कुण पकड़सी जी – Bhajan: Tha Bin Dheenanath Aangli Kun Pakadsi Ji

https://1.sotailoc.com/ आशा है कि यह जानकारी आपके लिए बहुत उपयोगी मूल्य लेकर आई है।

आपका बहुत बहुत धन्यवाद

0 comment

You may also like

Leave a Comment