Home » भजन: मुकुट सिर मोर का, मेरे चित चोर का | Bhajan: Aiso Ras Racho Vrindavan Hai Rahi Payal Ki Jhankar | भारत की अग्रणी गीत गीत साइट

भजन: मुकुट सिर मोर का, मेरे चित चोर का | Bhajan: Aiso Ras Racho Vrindavan Hai Rahi Payal Ki Jhankar | भारत की अग्रणी गीत गीत साइट

by Brahma Aditya

भजन: मुकुट सिर मोर का, मेरे चित चोर का | Bhajan: Aiso Ras Racho Vrindavan Hai Rahi Payal Ki Jhankar | गाने के बोल हर दिन अपडेट होते हैं


Add To Favorites

ऐसो रास रच्यो वृन्दावन,
है रही पायल की झंकार ॥
ऐसो रास रच्यो वृन्दावन,
है रही पायल की झंकार ॥
घुंघरू खूब छमा छ्म बाजे,
बजते बिछुवा बहुते बाजे,
रवा कौंधनी केहु बाजे,
अंग अंग में गहना साजे,
चूडियन की झंकार,
ऐसो रास रच्यो वृंदावन,
है रही पायल की झंकार ॥

बाजे भात भाँति के बाजे,
झांझ पखावज दुन्दुभि बाजे,
सारंगी और महुवर बाजे,
बंसी बाजे मधुर मधुर बाजे,
वीणा हूँ के तार,
ऐसो रास रच्यो वृंदावन,
है रही पायल की झंकार ॥

राधा मोहन दे गलबईयाँ,
नाचे संग संग ले फिरकईयाँ,
चाल चले शीतल सुखदईयाँ,
जामा पाटुका लहंगा फरिया,
करे सनन सरकार,
ऐसो रास रच्यो वृंदावन,
है रही पायल की झंकार ॥

ऐसो रास रच्यो वृन्दावन,
है रही पायल की झंकार ॥

यह भी जानें

Bhajan Shri Krishna BhajanBrij BhajanBaal Krishna BhajanBhagwat BhajanJanmashtami BhajanLaddu Gopal BhajanRadhashtami BhajanHoli BhajanPhalguna BhajanIskcon BhajanDevi Chitralekhaji Bhajan

अन्य प्रसिद्ध ऐसो रास रच्यो वृन्दावन – भजन वीडियो

Sharad Purnima Special

नित्य संकीर्तन – श्री रघुनाथद्वारा भीलवाड़ा

बाबा श्री चित्र विचित्र जी महाराज

अगर आपको यह भजन पसंद है, तो कृपया शेयर, लाइक या कॉमेंट जरूर करें!


इस भजन को भविष्य के लिए सुरक्षित / बुकमार्क करें Add To Favorites


* कृपया अपने किसी भी तरह के सुझावों अथवा विचारों को हमारे साथ अवश्य शेयर करें।

** आप अपना हर तरह का फीडबैक हमें जरूर साझा करें, तब चाहे वह सकारात्मक हो या नकारात्मक: यहाँ साझा करें।

और भी बेहतरीन गाने के बोल यहां देखें: https://1.sotailoc.com/Lyric

विषय से संबंधित खोजें भजन: मुकुट सिर मोर का, मेरे चित चोर का | Bhajan: Aiso Ras Racho Vrindavan Hai Rahi Payal Ki Jhankar

#भजन #मकट #सर #मर #क #मर #चत #चर #क #Bhajan #Aiso #Ras #Racho #Vrindavan #Hai #Rahi #Payal #Jhankar

भजन: मुकुट सिर मोर का, मेरे चित चोर का | Bhajan: Aiso Ras Racho Vrindavan Hai Rahi Payal Ki Jhankar

https://1.sotailoc.com/ आशा है कि यह जानकारी आपके लिए बहुत उपयोगी मूल्य लेकर आई है।

आपका बहुत बहुत धन्यवाद

0 comment

You may also like

Leave a Comment