Home » भजन: वाक् देवी हे कलामयी हे सुबुद्धि सुकामिनी – Aarti Maa Saraswati Vandana | भारत की अग्रणी गीत गीत साइट

भजन: वाक् देवी हे कलामयी हे सुबुद्धि सुकामिनी – Aarti Maa Saraswati Vandana | भारत की अग्रणी गीत गीत साइट

by Brahma Aditya

भजन: वाक् देवी हे कलामयी हे सुबुद्धि सुकामिनी – Aarti Maa Saraswati Vandana | गाने के बोल हर दिन अपडेट होते हैं


Add To Favorites

वाक् देवी हे कलामयी
हे सुबुद्धि सुकामिनी
ज्ञान रूपे सुधि अनूपे
हे सरस्वती नामिनी !
वाक् देवी हे कलामयी
हे सुबुद्धि सुकामिनी

बसू अधर’मे भाव’घर’मे शुद्ध ह्रदय सँवारि दे
ज्ञान गंगा भरि दिय’
माँ विद्या भरि भरि शारदे
करू इजोरे सभ डगरि मे
घेरि रहलै जामिनी !

वाक् देवी हे कलामयी
हे सुबुद्धि सुकामिनी

पाणि वीणा पाणि पुस्तक
हंस वाहिनी वागीशे
राग लय सुर निर्झरी बहबू
हे माँ हमरो दिशे
माय देखियौ द्वंद्व एहिमन
करू शमन हरि-वामिनी !

वाक् देवी हे कलामयी
हे सुबुद्धि सुकामिनी

छल प्रपञ्चसँ दूर रहि रहि
किछु करी जगले सदा
जे देलौं माँ ज्ञान सुधि बुधि
बाँटि दी ओ सर्वदा
फूटय नै शिव के अधर सँ
दोख कुबुद्धि के दामिनी !

वाक् देवी हे कलामयी
हे सुबुद्धि सुकामिनी
Singer: Madhvi Madhukar Jha
Lyrics : Shiv Kumar Jha’Tillu’

यह भी जानें

Bhajan Maa Saraswati BhajanSchool BhajanCollege BhajanSaraswati Shishu Mandir BhajanVasant Panchami BhajanBasant Panchami BhajanSaraswati Puja BhajanSaraswati Jayanti Bhajan

अगर आपको यह भजन पसंद है, तो कृपया शेयर, लाइक या कॉमेंट जरूर करें!


इस भजन को भविष्य के लिए सुरक्षित / बुकमार्क करें Add To Favorites


* कृपया अपने किसी भी तरह के सुझावों अथवा विचारों को हमारे साथ अवश्य शेयर करें।

** आप अपना हर तरह का फीडबैक हमें जरूर साझा करें, तब चाहे वह सकारात्मक हो या नकारात्मक: यहाँ साझा करें।

और भी बेहतरीन गाने के बोल यहां देखें: https://1.sotailoc.com/lyric/

विषय से संबंधित खोजें भजन: वाक् देवी हे कलामयी हे सुबुद्धि सुकामिनी – Aarti Maa Saraswati Vandana

#भजन #वक #दव #ह #कलमय #ह #सबदध #सकमन #Aarti #Maa #Saraswati #Vandana

भजन: वाक् देवी हे कलामयी हे सुबुद्धि सुकामिनी – Aarti Maa Saraswati Vandana

हम आशा है कि यह जानकारी आपके लिए बहुत उपयोगी मूल्य लेकर आई है।

आपका बहुत बहुत धन्यवाद

0 comment

You may also like

Leave a Comment