Home » शिव भजन: क्षिप्रा के तट बैठे है, मेरे भोले भंडारी – Shipra Ke Tat Baithe Hai Mere Bhole Bhandari | भारत की अग्रणी गीत गीत साइट

शिव भजन: क्षिप्रा के तट बैठे है, मेरे भोले भंडारी – Shipra Ke Tat Baithe Hai Mere Bhole Bhandari | भारत की अग्रणी गीत गीत साइट

by Brahma Aditya

शिव भजन: क्षिप्रा के तट बैठे है, मेरे भोले भंडारी – Shipra Ke Tat Baithe Hai Mere Bhole Bhandari | गाने के बोल हर दिन अपडेट होते हैं


Add To Favorites

क्षिप्रा के तट बैठे है,
मेरे भोले भंडारी,
भोले भंडारी,
सबको दर्शन देते है,
शिव शम्भू त्रिपुरारी,
भोले भंडारी, भोले भंडारी ॥

ये है उज्जैनी के राजा,
इनकी शरण में तू आजा,
शिव जी ही पार करेंगे,
शिव जी के मन में समा जा,
तू शिव शिव रटता जा,
भोले को भजता जा,
तू इतना कहता जा,
भोले भंडारी, भोले भंडारी ॥

भोले भी कितने है भोले,
झोली वरदानो की खोले,
दानव हो या देवता हो,
शिवजी तो सबके ही होले,
भस्मासुर हो या रावण,
सबको है किया पावन,
शिव नाम बड़ा मनभावन,
भोले भंडारी, भोले भंडारी ॥

शिव जी का धाम निराला,
सुन्दर है शिव का शिवाला,
कैलाश है यही काशी,
उज्जैन मोक्ष देने वाला,
यहाँ कंकर कंकर बोले,
सब शंकर शंकर बोले,
हे गंगाधर भोले,
भोले भंडारी, भोले भंडारी ॥

क्षिप्रा का अमृत सा पानी,
कहे है भोले की कहानी,
शिव भक्तो का ये ठिकाना,
करते है तप ज्ञानी ध्यानी,
महाकाल का करलो ध्यान,
करलो इनका गुणगान,
कर देंगे ये कल्याण,
भोले भंडारी, भोले भंडारी ॥

क्षिप्रा के तट बैठे है,
मेरे भोले भंडारी,
भोले भंडारी,
सबको दर्शन देते है,
शिव शम्भू त्रिपुरारी,
भोले भंडारी, भोले भंडारी ॥

यह भी जानें

Bhajan Shiv BhajanBholenath BhajanMahadev BhajanShivaratri BhajanSavan BhajanMonday BhajanSomvar BhajanSolah Somvar BhajanJyotirling BhajanShiv Vivah BhajanAnuradha Paudwal Bhajan

अन्य प्रसिद्ध क्षिप्रा के तट बैठे है, मेरे भोले भंडारी: भजन वीडियो

Debashish Dasgupta

अगर आपको यह भजन पसंद है, तो कृपया शेयर, लाइक या कॉमेंट जरूर करें!


इस भजन को भविष्य के लिए सुरक्षित / बुकमार्क करें Add To Favorites


* कृपया अपने किसी भी तरह के सुझावों अथवा विचारों को हमारे साथ अवश्य शेयर करें।

** आप अपना हर तरह का फीडबैक हमें जरूर साझा करें, तब चाहे वह सकारात्मक हो या नकारात्मक: यहाँ साझा करें।

और भी बेहतरीन गाने के बोल यहां देखें: यहां देखें

विषय से संबंधित खोजें शिव भजन: क्षिप्रा के तट बैठे है, मेरे भोले भंडारी – Shipra Ke Tat Baithe Hai Mere Bhole Bhandari

#शव #भजन #कषपर #क #तट #बठ #ह #मर #भल #भडर #Shipra #Tat #Baithe #Hai #Mere #Bhole #Bhandari

शिव भजन: क्षिप्रा के तट बैठे है, मेरे भोले भंडारी – Shipra Ke Tat Baithe Hai Mere Bhole Bhandari

https://1.sotailoc.com आशा है कि यह जानकारी आपके लिए बहुत उपयोगी मूल्य लेकर आई है।

आपका बहुत बहुत धन्यवाद

3 comments

You may also like

Leave a Comment